वॉशिंगटन: अमेरिका ने ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट से बैलिस्टिक मिसाइल को फायर कर इतिहास रच दिया है। अमेरिकी मिसाइल डिफेंस एजेंसी ने इस घटना का बाकायदा वीडियो जारी किया है। अभी तक किसी दूसरे देश ने ट्र्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल हमले के लिए नहीं किया है। किसी ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट से भारी-भरकम बैलिस्टिक मिसाइल को लॉन्च करना आसान नहीं होता है।

ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट को सामान और कभी कभी यात्रियों के परिवहन के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। अमेरिकी मिसाइल डिफेंस एजेंसी ने जो वीडियो जारी किया है, उसमें वायु सेना के एक सी-17ए ग्लोबमास्टर III एयरलिफ्टर के कार्गो बे से एक सरोगेट बैलिस्टिक मिसाइल के पूर्ण प्रक्षेपण चक्र को दिखाया गया है।

हवाई में किया गया परीक्षण

पेंटागन ने बताया कि बैलिस्टिक मिसाइल का यह प्रक्षेपण हवाई के तट पर किया गया है। यह मिसाइल डिफेंस परीक्षण का एक हिस्सा था, जिसका नाम स्टेलर सिसिफस रखा गया था। मिसाइल डिफेंस एजेंसी (एमडीए), अमेरिकी नौसेना और वायु सेना के अधिकारियों ने एक साथ मिलकर स्टेलर सिसिफस नाम के इस परीक्षण को अंजाम दिया।

इस परीक्षण में अमेरिकी नौसेना के अर्ले बर्क क्लास के विध्वंसक पोत यूएसएस मैककैंपबेल और यूएसएस जैक एच. लुकास के साथ एजिस एशोर मिसाइल डिफेंस टेस्ट कॉम्प्लेक्स और एडवांस्ड रडार डेवलपमेंट इवैल्यूएशन लेबोरेटरी ने भी हिस्सा लिया।

Share.

मैं सुभाष यादव ssresult.com का मालिक हूं। मुझे टेक्नोलॉजी और ऑटोमोबाइल की खबरों से प्यार है और बिजनेस की खबरों में भी थोड़ी दिलचस्पी है। मेरा मकसद टेक्नोलॉजी की खबरों को आसान भाषा में लोगों तक पहुंचाना है। मुझसे ssresult88@gmail.com और subhashgaya2023@gmail.com पर संपर्क किया जा सकता है।

Comments are closed.